जनता की आवाज उठा रही है कांग्रेस, उम्मीद है कि परिणाम बेहतर होगा: प्रियंका गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी पिछड़ेपन, बेरोजगारी, महंगाई और महिला सुरक्षा जैसे मुद्दों पर पूरी ताकत से लड़ रही है. उन्होंने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि चुनाव आ गए लेकिन मायावती सक्रिय नहीं दिखीं, शायद वे भाजपा सरकार के दबाव में हैं!
एएनआई को दिए इंटरव्यू में प्रियंका गांधी ने कहा, ‘हम पूरी ताकत से चुनाव लड़ रहे हैं. विकास, महंगाई, महिला सुरक्षा जैसे अहम मुद्दों पर चर्चा होनी चाहिए, ऐसे अहम मुद्दों को कांग्रेस ही उठा रही है. कांग्रेस जनता की आवाज उठा रही है, उम्मीद है कि परिणाम बेहतर होगा।

उन्होंने आगे कहा कि जब कोई पार्टी 400 सीटों में से केवल 100 या 200 सीटों पर चुनाव लड़ती है, तो यह स्पष्ट है कि वह उन सीटों पर कमजोर हो जाती है जहां वह चुनाव नहीं लड़ती है। हमारी पार्टी के लिए जरूरी था कि वह अकेले चुनाव लड़े और अपनी पार्टी को मजबूत करे।”
प्रियंका गांधी ने कहा, ‘हम किसी भी तरह की बहस के लिए तैयार थे लेकिन ऐसी कोई बहस नहीं हुई और हम अकेले चुनाव लड़ रहे हैं. एक तरह से यह हमारी पार्टी के लिए अच्छा है। हमने लंबे समय से यूपी की कई सीटों पर चुनाव नहीं लड़ा है।
चुनाव बाद गठबंधन के बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि भाजपा के लिए दरवाजा पूरी तरह से बंद है और अन्य दलों के लिए खुला है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी और भाजपा कुछ हद तक एक जैसी राजनीति कर रहे हैं और इन दिनों ऐसी राजनीति से फायदा हो रहा है।

SHARE
असरार अहमद मिल्लत टाइम्स हिंदी के एडिटर और न्यूज एंकर है.. सामाजिक सियासी मुद्दों और ग्राउंड रिपोर्ट्स को कवर करते हैं