सरकार को अब चीनी क़ब्ज़े का सत्य भी मान लेना चाहिए : राहुल गाँधी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कृषि कानून को निरस्त करने की घोषणा के एक दिन बाद, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि उन्हें यह भी स्वीकार कर लेना चाहिए कि भारतीय सीमा पर चीनी सैनिकों का कब्जा है।
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री मोदी की तीन कानूनों को वापस लेने की घोषणा पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) सरकार को अपनी गलती स्वीकार करने में लगभग 350 दिन लगे और तब तक 700 किसान शहीद हो चुके थे ख़ुशी की बात है कि अत्याचारों और अन्याय का सामना करने के बाद किसानों ने इस आंदोलन में जीत हासिल की।

राहुल गांधी ने कहा कि अब सरकार को भी सीमा पर चीनी कब्जे को स्वीकार करना चाहिए.” उन्होंने ट्वीट किया कि ”अब चीनी कब्जे की सच्चाई को भी स्वीकार करना चाहिए.”
कांग्रेस बार-बार चीनी सैनिकों पर भारतीय सीमा में घुसपैठ करने का आरोप लगाती रही है, लेकिन सरकार इस बात को मानने को तैयार नहीं है. सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने भी कहा था कि घुसपैठ नहीं हुई है लेकिन बाद में उन्होंने स्वीकार किया कि घुसपैठ हुई है.

SHARE
असरार अहमद मिल्लत टाइम्स हिंदी के एडिटर और न्यूज एंकर है.. सामाजिक सियासी मुद्दों और ग्राउंड रिपोर्ट्स को कवर करते हैं