MP के बड़वानी में मुस्लिम युवक हिन्दू युवती के साथ भागा,अब पूरे समुदाय को किया जा रहा परेशान

नई दिल्ली : (असरार अहमद ) बीते कुछ सालों से पूरे देश में अल्पसंख़्यक समुदाय को निशाना बनाया जा रहा है लेकिन मध्य प्रदेश में पिछले कुछ महीनों से कुछ ऐसे लोग हैं जिनको अब कानून से डर नहीं लग रहा है, उनको कानून से डर लगे भी क्यों क्योंकि कानून अपना काम ठीक से नहीं कर रहा प्रशासन किसी के दबाव में आकर काम कर रहा है इसी वजह से कुछ लोग हैं जो कानून की धज्जियाँ उड़ाते फिर रहे हैं जब चाहते हैं किसी पर हमला कर देते हैं और जब चाहते हैं किसी से जबरदस्ती जय श्री राम के नारे लगवाते हैं और न लगाने पर उनके साथ मारपीट भी करते हैं एक विशेष समुदाय को टारगेट करते हैं, मध्य प्रदेश के बड़वानी में एक मुस्लिम लड़का किसी हिन्दू लड़की के साथ भाग गया जिसकी वजह से वहां के कुछ लोग पंचायत करके मुस्लिम समुदाय को टारगेट करने लगे ,मस्जिदों में नमाज़ पढ़ने से रोक दिया ,कब्रस्तान में तोड़फोड़ शुरू कर दी ,मुस्लिम घरों ,मस्जिद और क़ब्रस्तान को निशाना बनाया गया मस्जिद के इमाम को भी मारा गया और यह धमकी भी दी गई कि मस्जिद को तोड़ दिया जाएगा बड़वानी के मुस्लिम समुदाय के लोग खौफ में जी रहे हैं कुछ लोग डर की वजह से घर छोड़ कर भाग गए हैं।

लड़की अब अपने घर पर है और वह लड़का जेल में है लेकिन गांव के मुस्लिम समुदाय आज भी इन्साफ की राह देख रहे हैं एक लड़का दुसरे समुदाय की लड़की के संग भागा जिसके बाद एक विशेष समुदाय को यह सब देखना पड़ा गांव के सभी मुस्लिम कई बार थाने गए इस पूरे मामले की पुलिस से शिकायत की लेकिन कार्रवाई न के बराबर हुई इतना दिन हो गया अगर पुलिस प्रशासन चाहता तो इस मामले को आगे न बढ़ने देता लेकिन प्रशसान ने सही समय पर कोई कार्रवाई नहीं की।
इस घटना के बाद आज भी बड़वानी के मुस्लिम समुदाय खौफ में हैं लोगों ने बताया की दुसरे समुदाय के लोग मस्जिद के सामने पेशाब भी कर रहे हैं और गलियां भी दे रहे हैं लेकिन पुलिस हमारी कुछ भी सुनने को तैयार नहीं है। इस घटना को देख कर सवाल यह उठता है कि क्या कोई मुस्लिम लड़का किसी हिन्दू लड़की से शादी कर ले तो यह संवैधानिक तौर पर गलत है ? क्या सुप्रीम कोर्ट अपना जीवन साथी चुनने का अधिकार नहीं देता है? क्या अब प्यार करना भी अपराध हो गया है ? क्या एक लोकतान्त्रिक देश में किसी दुसरे धर्म में शादी करना अब जुर्म माना जाएगा ?

SHARE
असरार अहमद मिल्लत टाइम्स हिंदी के एडिटर और न्यूज एंकर है.. सामाजिक सियासी मुद्दों और ग्राउंड रिपोर्ट्स को कवर करते हैं