देश में बेरोजगारी की मार, केंद्र में 8.72 असामियाँ ख़ाली

देश में बढ़ती बेरोजगारी के बीच केंद्र सरकार ने माना है कि उसके मंत्रालयों और विभागों में 8 लाख से ज्यादा पद खली हैं

नई दिल्ली: देश में बढ़ती बेरोजगारी के बीच केंद्र सरकार ने माना है कि उसके मंत्रालयों और विभागों में 800,000 से ज्यादा पद खाली हैं. गौरतलब है कि देश में कोरोना संकट के चलते बड़ी संख्या में लोगों की नौकरी चली गई है और इस मुद्दे पर विपक्ष सरकार पर निशाना साध रहा है.
संसद के मानसून सत्र के दौरान कर्मचारी और प्रशिक्षण राज्य मंत्री जतिंदर सिंह ने एक लिखित उत्तर में राज्यसभा में रिक्तियों की जानकारी प्रदान की। पीटीआई के मुताबिक, मंत्री ने अपने जवाब में कहा कि 1 मार्च, 2020 तक केंद्र के सभी मंत्रालयों और विभागों में कुल 872,243 पद खाली पड़े हैं

केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा कि केंद्र सरकार के सभी मंत्रालयों और विभागों में 1 मार्च, 2020 तक स्वीकृत पदों की कुल संख्या 4,04,941 है, जबकि उनमें से केवल 31,32,698 की ही नियुक्ति हुई है जबकि 8.72 लाख पद खाली हैं.
केंद्रीय मंत्री जतिंदर सिंह ने भी तीन सरकारी भर्ती एजेंसियों द्वारा की गई भर्तियों का विवरण दिया। उन्होंने कहा कि वित्तीय वर्ष 2016-17 से 2020-21 के बीच संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने कुल 25267, कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) ने 214601 और रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) ने 204945 को रोजगार प्रदान किया।
एक तरफ केंद्र में इतनी वैकेंसी हैं तो दूसरी तरफ देश में बेरोजगारी बढ़ती जा रही है. निजी थिंक टैंक सीएमआईई के मासिक बेरोजगारी दर के आंकड़ों के अनुसार, देश 2021 की शुरुआत से ही बेरोजगारी के संकट का सामना कर रहा है।