लक्षद्वीप: प्रफुल पटेल की आलोचना करने पर फिल्म निर्माता आयशा सुल्ताना पर देशद्रोह का केस

“लेकिन मैं दुबारा यह कहना चाहती हूं कि सच्चाई की जीत होगी. आयशा सुल्तानाने कहा मैं उस ज़मीन के लिए अपनी लड़ाई जारी रखूंगी जहां मैं पैदा हुई. हम किसी से नहीं डरते. मेरी आवाज अब तेज होने वाली है.”

नई दिल्ली (मिल्लत टाइम्स ) लक्षद्वीप में फिल्म बनाने वाली आयशा सुल्ताना के खिलाफ देशद्रोह व अभद्र भाषा के इस्तेमाल की धाराओं में केस दर्ज किया गया है। लक्षद्वीप प्रशासक प्रफुल्ल खोड़ा पटेल के खिलाफ आयशा सुल्ताना को बोलना भारी पड़ा है. आयशा सुल्ताना की टिप्पणी को गंभीरता से लेते हुए उनके खिलाफ देशद्रोह व अभद्र भाषा के इस्तेमाल की धाराओं में केस दर्ज किया गया है. आयशा ने प्रशासक प्रफुल खोड़ा पटेल के कोविड से निपटने की आलोचना की थी साथ ही उन्हें केंद्र द्वारा भेजा गया “जैव-हथियार” बताया था. पुलिस ने इस मामले में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष की शिकायत पर आयशा के खिलाफ कार्रवाई की है.

इस हफ्ते की शुरुआत में आयशा सुल्ताना ने एक चैनल पर न्यूज डिबेट के बीच प्रफुल्ल पटेल और केंद्र सरकार के खिलाफ टिप्पणी की थी. उन्होंने कहा था, “लक्षद्वीप में कोविड​​​​-19 के जीरो मामले थे. अब यह बढ़कर रोजाना 100 मामलों पर आ गया है. मैं यह साफ़ तौर से कह सकती हूं कि केंद्र सरकार ने लक्षद्वीप में जैव हथियार तैनात किया है.”

आयशा सुल्ताना के इस बात पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर विरोध किया था. भाजपा के लक्षद्वीप प्रमुख सी अब्दुल खादर हाजी ने पुलिस से शिकायत की कि उन पर “राष्ट्र-विरोधी” और उन जैसी गंम्भीर धाराओं में मुक़दमा दर्ज किया जाए. आयशा सुल्ताना प्रफुल्ल खोड़ा के फैसलों की पहले से ही कड़ी आलोचना करती रही हैं.

केस दर्ज हो जाने के बाद फिल्म निर्माता ने फेसबुक पर एक पोस्ट में कहा, “उन्होंने मेरे खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया है, लेकिन मैं दुबारा यह कहना चाहती हूं कि सच्चाई की जीत होगी. आयशा सुल्तानाने कहा मैं उस ज़मीन के लिए अपनी लड़ाई जारी रखूंगी जहां मैं पैदा हुई. हम किसी से नहीं डरते. मेरी आवाज अब तेज होने वाली है.”

loading...